अन्य
    Saturday, May 25, 2024
    अन्य

      ओरमांझी-चुटूपालू घाटी में हुए सड़क हादसे में 4 लोगों की मौत, कई जख्मी

      ओरमांझी (एहसान राजा)। एन एच 33 मार्ग में मधुबन होटल के सामने मंगलवार की शाम  दडदाग निवासी लाल साहू का 22 वर्षीय पुत्र निखिल कुमार साहू किसी काम से अपनी मोटरसाइकिल से जैविक उद्यान की तरफ जा रहा था। इसी दौरान निखिल कुमार साहू जब मधुबन होटल के पास पहुंचा तो पीछे से रामगढ़ की ओर से आ रही टेलर नंबर आरजे 47 जीए/ 1186 ने निखिल कुमार को अपने चपेट में ले लिया। जिससे उसकी  मौत घटनास्थल पर ही हो गया।

      4 people died many injured in a road accident in Ormanjhi Chutupalu valley 2घटना के बाद टेलर का ड्राइवर और उपचालक फरार हो गए हैं। जिसके कारण निखिल का शव टेलर लगभग 2 घंटे तक फंसा रहा। सड़क दुर्घटना के कारण एन एच 33 में लंबी जाम लग गया।

      घटना की सूचना मिलने पर औरमांझी थाना प्रभारी आलोक कुमार सिंह घटना स्थल पर जाकर सड़क जाम को हटाया और क्रेन के माध्यम से निखिल कुमार का शव को टेलर के चक्का से निकाल कर पोस्टमार्टम के लिए रिम्स भेज दिया। घटना की सूचना मिलते ही निखिल कुमार साहू के परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल हो गया है

      दूसरी घटना एन एच 33 चुटूपालू घाटी का है, जिसमें चार वाहन एक साथ टकरा गयी। जिसमे एक ट्रैक्टर, एक ट्रेलर और दो कार दुर्घटनाग्रस्त हो गया हैं। दुर्घटना में 3 लोगों की मौत हो गई है। मृतक में ट्रैक्टर का चालक 24 वर्षीय दिनेश बेदिया,और 27 वर्षीय शंकर बेदिया हैं।

      ट्रैक्टर के खलासी की स्थिति गंभीर बतायी जा रही है। कार में सवार लोग भी घायल हैं। सभी घायलों को आनन-फानन में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटना के बाद दोनों ओर सड़क जाम है।

      जानकारी के मुताबिक, एक पीसीआर वैन घाटी के रास्ते से गुजरने वाली गाड़ियों को रोककर पैसे वसूलती है। आज सुबह भी उसी रास्ते से होकर गुजरने वाले ट्रैक्टर को पीसीआर वैन ने पैसे वसूलने के लिए रोका। तभी पीछे से एक ट्रेलर ने उसे टक्कर मार दिया।

      इसी के बाद लगातार दो कारें भी पीछे से आ गईं, जिससे चारों वाहन आपस में टकरा गये। सभी गाड़ियां रांची से रामगढ़ की ओर जा रही थीं। घटना के बाद से ही रामगढ़-रांची फोर लेन जाम है। एनएच-33 के दोनों ओर जाम में कई गाड़ियां फंसी हैं।

      बता दें कि मृतकों में शामिल दो युवक उत्तराखंड टनलमें फंसे मजदूर राजेंद्र बेदिया व सुकराम बेदिया के चचेरे भाई हैं। 24 वर्षीय दिनेश बेदिया, राजेंद्र बेदिया का और 27 वर्षीय शंकर बेदिया, सुकराम बेदिया के चचेरे भाई हैं। दोनों मृतक ओरमांझी के ही रहने वाले थे। दिनेश बेदिया का दो बेटा और एक बेटी है। शंकर बेदिया का एक पुत्र है, जो अभी काफी छोटा है।

      संबंधित खबर
      error: Content is protected !!