अन्य
    Tuesday, June 18, 2024
    अन्य

      जानें राजधानी रांची में कहां-कहां बनाए जाएंगे छह नए फ्लाइओवर

      रांची दर्पण डेस्क। झारखंड की राजधानी रांची शहर में छह नए फ्लाइ ओवर के निर्माण की प्रक्रिया शुरू की जा रही है। इसके लिए डीपीआर तैयार करने का निर्देश दिया गया है। इसमें अरगोड़ा और करमटोली फ्लाइओवर को प्राथमिकता पर रखा गया है। इन योजनाओं का डीपीआर तैयार होने के बाद इसकी स्वीकृति की दिशा में पथ निर्माण विभाग आगे बढ़ेगा।

      इन जगहों पर बनेंगे फ्लाइओवरः अरगोड़ा चौक के ऊपर हरमू की ओर से डिबडीह की ओर फ्लाइओवर का निर्माण होगा। यानी गाड़ियां हरमू से आकर सीधे फ्लाइओवर से डिबडीह की ओर निकल जायेंगी। वहीं, अशोक नगर और कटहल मोड़ की ओर आना- जाना नीचे से होगा।

      करमटोली चौक से रिम्स के आगे तक प्लाइओवर बनाने की योजना है। करमटोली चौक के पासलग रहे जाम से निजात दिलाने के लिए यह व्यवस्था की जायेगी। इसके बन जाने से गाडियां सीधे रिम्स के आगे निकल जायेंगी। वहीं, रिम्स की ओर से आने वाली गाड़ियां लोकायुक्त कार्यालय के आगे तक जायेंगी।

      करमटोली चौक से बोड़ेया तक फ्लाइओवर बनाया जायेगा। इससे मोरहाबादी इलाके में लोगों को जाम से निजात मिलेगी। करमटोली चौक के आगे से इसे बनाया जायेगा। इससे मोरहाबादी के बाजार क्षेत्र के आगे तक ऊपर ही ऊपर गाड़ियां जायेंगी और बोड़ेया के पास उतरेंगी।

      डीपीएस स्कूल के पास से बिरसा चौक होते हुए हिनू तक फ्लाइओवर बनाने की भी योजना है। इसका सर्वे पहले भी कराया गया है। इसका डीपीआर बनाया गया था। इसमें अंडर पास का भी प्रावधान किया गया था। अब फिर से डीपीआर बनाया जायेगा, ताकि हिनू या बिरसा चौक की ओर जाने वाले वाहन फ्लाइओवर से हिनू एयरपोर्ट की ओर निकल जायें। वहीं, जिन्हें खूंटी रोड जाना है, वे बिरसा चौक से मुड़ जायेंगे।

      विकास से कांटाटोली होते हुए नामकुम तक फोरलेन सड़क का काम हो रहा है, ताकि ट्रैफिक की समस्या से निजात मिले। ट्रैफिक सिस्टम और बेहतर करने के लिए कांटाटोली से बूटी मोड़ तक फ्लाइओवर बनाया जायेगा। इसका सर्वे कराया गया है। इसके बनने से कोकर चौक, खेलगांव चौक आदि जगहों पर लोगों को जाम से मुक्ति मिलेगी।

      वहीं, प्रस्तावित हरमू फ्लाइओवर का विस्तार करके एलपीएन शाहदेव चौक से कांके (नगड़ी) में रिंग रोड तक जोड़ा जायेगा। इससे गाड़ियां सीएमपीडीआइ, चांदनी चौक, कांके चौक के जाम में नहीं फंसेंगी। बल्कि, ऊपर ही ऊपर रिंग रोड की ओर निकल जायेंगी। इससे जाम से मुक्ति मिलेगी।

      पंडरा से कांके रोड तक बननेवाले फोरलेन के लिए शुरू होगा भू-अर्जनः पंडरा से कांके रोड तक बनने वाली फोरलेन सड़क के लिए भू-अर्जन की कारवाई जल्द शुरू होगी। अभी भू- अर्जन की प्रक्रिया रुकी हुई थी। अब रैयतों के मुआवजा भुगतान के लिए राशि मिल गयी है।

      ऐसे में भू-अर्जन का काम तेजी से होगा। रैयतों के बीच करीब 150 करोड़ रुपये का वितरण करना है। इसमें से 75 करोड़ रुपये पथ निर्माण विभाग ने दे दिया है। इस तरह अब जमीन लेकर काम शुरू कराने की दिशा में कार्रवाई की जायेगी।

      जानकारी के मुताबिक, इस सड़क के लिए तीन माह पहले टेंडर भी कर दिया गया है, लेकिन भू-अर्जन का कार्य लंबित होने की वजह से इसका टेंडर फाइनल नहीं किया जा सका। अब इसका टेंडर भी फाइनल हो सकेगा। यह सड़क पूरी तरह नयी होगी। यह इनर रिंग रोड का हिस्सा है।

      रैयतों के बीच होगा 150 करोड़ का वितरणः मेकन की ओर से एनओसी नहीं मिला, लटकी डिबडीह-मेकन सड़क के निर्माण की योजना रांची। पथ निर्माण विभाग की डिबडीह से मेकन की ओर सड़क निकालने की योजना लटकी हुई है। यहां मेकन की ओर से एनओसी नहीं मिलने की वजह से सड़क योजना पर विभाग आगे नहीं बढ़ रहा है।

      विभाग ने यह योजना तैयार की थी कि डिबडीह आरओबी के बगल से एक सड़क निकाली जायेगी, जो मेकन कॉलोनी के बाहर से एजी ऑफिस की ओर निकल जायेगी। यह सड़क मौजूदा सड़क के समानांतर होगी। इसके लिए कई बार मेकन को पत्र लिखा गया है। वहीं, इस्पात मंत्रालय को भी पत्र भेजा गया है। एक बार फिर इस दिशा में तेजी से प्रयास किया जा रहा है।

      इंजीनियरों ने बताया कि जमीन का हस्तांतरण नहीं मांगा जा रहा है, बल्कि निर्माण कार्य के लिए एनओसी मांगा जा रहा है, ताकि ट्रैफिक की समस्या काफी हद तक ठीक की जा सके। इसके बन जाने से गाड़ियां 15 से 20 मिनट में पंडरा से कांके रोड पहुंच जायेंगी। यह सड़क नवासोसो सहित अन्य गांवों को जोड़ते हुए कांके रोड पहुंचेगी। सड़क निर्माण से नागरिकों की पुरानी मांग भी पूरी हो सकेगी।

      मोरहाबादी मैदान में होगा राष्ट्रीय जतरा महोत्सव का भव्य आयोजन, 785 जनजातीय समुदाय का होगा जमावड़ा

      ओरमांझी के युवा भाजपा नेता आशीष साहू पर यूपी में जानलेवा हमला की जांच शुरू

      धरती आबा भगवान बिरसा मुंडा जयंती पखवाड़ा समारोह में पहुँचे अर्जुन मुंडा

      झारखंडी महाजतरा में 31 जनवरी और 1 फरवरी को होगा खोड़हा मंडलियों का समागम

      उत्तरकाशी टनल में फंसे मजदूरों के निकलने की खबर से खुशी की लहर, ओरमांझी के भी हैं 3 मजदूर

      संबंधित खबरें