अन्य
    Tuesday, June 18, 2024
    अन्य

      एनएचआई ने ओरमांझी ब्लॉक शास्त्री चौक बाजार इलाका को यूं कबाड़खाना बनाकर छोड़ डाला

      ओरमांझी (रांची दर्पण)। एनएचआई द्वारा ओरमांझी शास्त्री चौक में निर्माणाधीन फ्लाई ओवर का कार्य रद्द हो गया है। यहाँ अब किसी तरह का कोई निर्माण कार्य नहीं होगा। इससे प्रभावित लोगों में काफी आक्रोश देखा जा रहा है। क्योंकि उनका दुकान, मकान के साथ रोजी-रोटी तहस-नहस कर दिए जाने के बाद पूरे इलाके को कबाड़खाना बनाकर छोड़ दिया गया है। जिसकी चिंता किसी को नहीं है।

      NHI left Ormanjhi Block Shastri Chowk Bazaar area as a junkyard 2बता दें कि ओरमांझी शास्त्री चौक रांची पटना मार्ग को जोड़ती है। साथ ही पूरब की ओर बोकारो धनबाद के लिए गोला मार्ग तो पश्चिम में मोरहाबादी सड़क निकलती है। यह अति व्यस्तम स्थल हैं, वहां पर न तो गोलचक्कर है और न ही साइड रोड।

      यहाँ कुछ दिनों पहले दोनों ओर ब्रेकर बनवा देने से दुर्घटनाओं में कुछ कमी आई है। लगभग एक साल पहले इस फ्लाई ओवर का निर्माण कार्य आरंभ भी हो गया था। इसके लिए अतिक्रमित (अधिग्रहित) क्षेत्र को मुक्त भी कराया गया।

      इस क्रम में कइयों के दुकान टूटे तो कइयों के मकान। लोगों को अपनी दुकान व मकान टूटने का दुख तो था, लेकिन वे फ्लाई ओवर के निर्माण कार्य में बाधक नहीं बने। पहले फ्लाई ओवर का जो निर्माण होना था, उसके तहत दोनों ओर से बंद था। यह यहां के लोगों को रास नहीं आ रहा था।

      इसी बीच प्रभावित-पीड़ित लोगों ने पिलर वाला फ्लाई ओवर निर्माण की मांग की। इसके लिए क्षेत्र के सांसद, विधायक व कई जनप्रतिनिधि केंद्रीय सड़क निर्माण मंत्री नितिन गडकरी से भी दिल्ली जाकर मिले और अपनी मांगें रखी।

      तब केन्द्रीय मंत्री ने आश्वस्त किया था कि अब पिलर वाला ही फ्लाई ओवर बनेगा, लेकिन यह नहीं हो सका। और इधर फ्लाई ओवर का निर्माण रद्द हो जाने की बात बताई जा रही है।

      जबकि इस दौरान निर्माण कार्य में जुटे संवेदक ने एनएच के दोनों ओर कोड़-खंद के तहस-नहस कर डाला है। उसपर वाहन तो दूर पैदल चलना भी मुश्किल है। नालियों को तोड़ दिया गया है और नया नाली नहीं बनाने से लोगों को काफी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। बिजली के खंभें भी इधर-उधर कर छोड़ दिया गया है। इस संबंध में एनएचआई का कोई भी अधिकारी संतोषप्रद जवाब देने की स्थिति में नहीं दिख रहे हैं।

      [embedyt] https://www.youtube.com/watch?v=Da-bn1fm_cQ[/embedyt]

      3 COMMENTS

      Comments are closed.

      संबंधित खबरें