अन्य
    Friday, February 23, 2024
    अन्य

      गड़बड़ीः राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने दीया सेवा संस्थान का औचक निरीक्षण किया

      "एक साल पहले यहां बच्ची के यौन शोषण का मामला दर्ज हुआ था। आरोपी गैर अनुमोदित स्थान पर चल रहे बालगृह संचालक का पुत्र है और इसकी गिरफ्तारी नहीं हुई है, न ही होम बंद हुआ...

      बरियातू (राँची दर्पण)। राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग के चेयरमैन प्रियंक कानूनगो ने शनिवार को बरियातू स्थित दीया सेवा संस्थान का औचक निरीक्षण किया।

      उनके साथ जिला समाज कल्याण पदाधिकारी शत्रुजंय कुमार और सीडब्ल्यूसी चेयरमैन अजय शाह भी थे। जांच के क्रम में संस्थान में उपलब्ध कागजात सही नहीं पाए गए। साथ ही वहां 10 लड़कियां भी मिलीं।

      चेयरमैन ने सभी बच्चियों को वहां से हटाकर दूसरी जगह शिफ्ट करने को कहा। इस पर पांच लड़कियों को दूसरे शेल्टर होम भेजा गया और पांच को उनके अभिभावकों को सौंप दिया गया।

      निरीक्षण के बाद आयोग के चेयरमैन ने ट्वीट कर कहा कि रांची में एक बालगृह का निरीक्षण किया। एक साल पहले यहां बच्ची के यौन शोषण का मामला दर्ज हुआ था।

      आरोपी गैर अनुमोदित स्थान पर चल रहे बालगृह संचालक का पुत्र है और इसकी गिरफ्तारी नहीं हुई है, न ही होम बंद हुआ। अभी भी 10 बच्चियां रह रही हैं। इस संस्था को झारखंड सरकार पैसा भी दे रही है।

      जमीन कारोबारी की हत्या की सुपारी लेकर गोली मारने वाले तीन आरोपी गिरफ्तार

      जेएससीए की वार्षिक आम सभा में संजय सहाय अध्यक्ष निर्वाचित, डॉ. नरेंद्र सिन्हा बने उपाध्यक्ष

      15 साल वर्षीय किशोर ने 4 साल की मासूम संग किया गंदा काम, गिरफ्तारबिल्डर पवन बजाज की माफियागिरीः बिना कागजात दिखाए रात में कराई 1457 एकड़ जमीन की रजिस्ट्री

      धरती आबा बिरसा मुंडा की शहादत स्मृति पर झारखंड के प्रसिद्ध हस्तियों को सम्मानित करेगी करम फाउंडेशन

      - Advertisment -

      LEAVE A REPLY

      Please enter your comment!
      Please enter your name here

      - Advertisment -
      - Advertisment -
      संबंधित खबर
      - Advertisment -
      error: Content is protected !!