अन्य
    Friday, May 17, 2024
    अन्य

      संगठन को प्रखंड स्तर पर मजबूत करने को लेकर कांग्रेसियों की बैठक में उभरा असंतोष

      ओरमांझी (एहसान राजा)। अनगडा़ प्रखंड के अंतर्गत ई. ई.  एफ यूनियन कार्यालय टाटीसिल्वे प्रांगण में अशोक मिश्रा उपाध्यक्ष जिला ग्रामीण कांग्रेस कमेटी रांची के अध्यक्षता में  बैठक हुई। जिसमें सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित किया गया कि कांग्रेस पार्टी के संगठनात्मक चुनाव में विसंगतियां हुई है। विशेष रूप से चर्चा करते हुए संगठनात्मक चुनाव में भारी गड़बड़ी किया गया है।

      जिसकी सूचना एवं पत्र के माध्यम से कांग्रेस पार्टी के केंद्रीय चुनाव प्राधिकरण के अध्यक्ष  मधुसूदन मिस्त्री को ज्ञापन सौंपा जाएगा और इस संबंध में विस्तृत रूप से जानकारी दी जाएगी तथा अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष  सोनिया गांधी, पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष  राहुल गांधी, अविनाश पांडे झारखंड प्रभारी, राजेश ठाकुर अध्यक्ष झारखंड प्रदेश विधायक दल के नेता आलमगीर आलम को भी ज्ञापन एवं जानकारी दी जाएगी।

      एक सप्ताह के अंदर उचित कार्रवाई नहीं की जाती है। तो झारखंड प्रदेश कांग्रेस कार्यालय के समक्ष कार्यकर्ताओं द्वारा धरना एवं प्रदर्शन किया जाएगा। तथा अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी द्वारा भारत जोड़ो यात्रा का कार्यक्रम चलाया जा रहा है। उस कार्यक्रम में सक्रिय रुप से सहयोग करेंगे और यात्रा में शामिल होंगे विशेषकर रांची जिला के संगठनात्मक चुनाव में भारी विसंगतियां सामने खुलकर आई है।

      पिछले कुछ दिन पहले विभिन्न प्रखंडों में प्रखंड कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष का चुनाव पार्टी के निर्देशानुसार किया गया था। जिसमें सर्व समिति से प्रखंड अध्यक्ष एतवा उरांव,अनगडा़ विजय टोप्पो नामकुम, नागेश्वर महतो, सिल्ली  कृजीवन महतो, नगड़ी शिव उरांव, चानहो, अख्तर समीम आजाद, मांडर, सलीम खान इटकी, इत्यादि को सर्व समिति से अध्यक्ष पद के लिए पार्टी के द्वारा चुनाव कराया गया था। लेकिन व्यक्तिगत राजनीतिक लाभ लेने के लिए कांग्रेस पार्टी को कमजोर करने के लिए बिना कारण बिना नोटिस दिए हुए बिना बताए हुए सभी अध्यक्षों को हटाकर दूसरे प्रखंड अध्यक्ष का  मनोनीत कर दिया गया है। जो पार्टी हित एवं संगठनात्मक चुनाव का तथा नियमानुसार कहीं से उचित नहीं लगता है। जिसका जमकर बैठक में विरोध किया गया।

      इसी प्रकार रांची जिले के विभिन्न प्रखंडों से प्रदेश कांग्रेस  के सदस्य पीसीसी  डेलीगेट के लिए सर्व सहमति प्रखंड से निर्वाचित किया गया था। सुरेश प्रसाद साहू, ओरमांझी, अशोक कुमार मिश्रा, नामकुम मदन महतो, कांके, शिव दास गोस्वामी, अनगड़ा, लेकिन कांग्रेस पार्टी के नीति सिद्धांत को दरकिनार करते हुए लोगों का नाम को हटाकर इन लोगों के जगह दूसरे लोगों को अध्यक्ष पद के लिए चयनित किया गया। जिसका भी जोरदार रूप से विरोध किया गया और कहा गया कि त्वरित संज्ञान लेते हुए झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राजेश ठाकुर और प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे एवं वरिष्ठ नेतागण त्रुटि को महत्वपूर्ण समझते हुए करवाई पार्टी हित में और सुधार किया जाए।

      झारखंड प्रदेश के तीन विधायक राजेश कच्छप, डॉक्टर इरफान अंसारी, विल्सन कोंगाड़ी कैस कांड मामले में बिल्कुल निर्दोश है। वरिष्ठ नेता गण षड्यंत्र के तहत राजनीतिक लाभ लेने के लिए जानबूझकर तीनों विधायक को फंसाया।

      कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता पार्टी संगठन हित में पूर्व से निर्वाचित  प्रखंड अध्यक्षों को एवं प्रदेश डेलीगेट को यथावत रहने दिया जाए और नहीं तो नीति सिद्धांत के तहत जोरदार ढंग से आंदोलन धरना प्रदर्शन करने के लिए वाद्य होंगे। नेता एवं कार्यकर्ता इस बैठक के दौरान निर्णय लिए बैठक में कई वरिष्ठ नेताओं व कार्यकर्ताओं ने अपनी अपनी बात एवं विचार  मजबूती के साथ  रखें।

      बैठक में मुख्य रूप से रमेश उरांव महासचिव व प्रवक्ता सह कार्यालय प्रभारी जिला ग्रामीण कांग्रेस कमेटी रांची, सुरेश प्रसाद साहू वरीय उपाध्यक्ष, शिव उरांव, प्रेमनाथ मुंडा, राजेंद्र मुंडा, मिन्हाज आलम, शिव दास गोस्वामी, दिनेश प्रमाणिक, पंचू तिर्की, कमिस्नर मुंडा, शाकिर अंसारी, सफीउल्लाह अंसारी,रशीद अंसारी, हरी मोहन महतो, मुबारक अंसारी, आदि समेत जिले से विभिन्न प्रखंड के वरिष्ठ नेता एवं कार्यकर्ता उपस्थित थे।

      संबंधित खबर
      error: Content is protected !!