अन्य
    Thursday, April 25, 2024
    अन्य

      चंचला विश्व कुश्ती चैंपियनशिप के लिए चयनित, हंगरी में तिरंगा लहराएगी ओरमाँझी की बेटी

      चंचला के पिता नरेंद्र नाथ पाहन पेसे से पलंबर एवं किसान हैं। साथ ही खेती भी करते हैं। उन्हें विश्वास है कि बेटी चंचला विश्व स्तर पर भारतीय तिरंगा जरूर लहराएगी

      राँची दर्पण डेस्क। निक्की प्रधान और सलीमा टेटे के ओलंपिक हॉकी टीम में जगह बनाने के बाद एक और बेटी ने खेल में झारखंड का का मान बढ़ाया है। ओरमाँझी के पंचायत पाँचा का हतवाल गांव रहने वाले चंचला कुमारी ने सब जूनियर विश्व कुश्ती चैंपियन (अंडर 14) के लिए भारतीय टीम में जगह बनाई है।

      Now Ormanjhis daughter Chanchla will hoist the tricolor in the World Wrestling Championship
      घर के दरवाजा पर खड़े चंचला के माता-पिता…

      वह सब जूनियर विश्व कुश्ती चैंपियनशिप में 40 किलो वर्ग में देश का प्रतिनिधित्व करेगी। चैंपियनशिप का आयोजन हंगरी के बुडापेस्ट में 19 से 25 जुलाई तक होगा। चंचला झारखंड के पहले कुश्ती खिलाड़ी है, जो अंतरराष्ट्रीय मैच खेलेगी।

      चंचला ने यह उपलब्धि नई दिल्ली में आयोजित सलेक्शन ट्रायल में प्रथम स्थान हासिल कर की है। चंचला खेलगांव में चल रहे झारखंड स्टेट स्पोर्ट्स प्रमोशन सोसाइटी (जेएसएसपीएस) में पहले बैच की खिलाड़ी है।

       चंचला की उपलब्धियां:

      वर्ष 2017-18: एसजीएफआई राष्ट्रीय कुश्ती सिल्वर मेडल

      वर्ष 2018-19: एसजीएफआई राष्ट्रीय कुश्ती गोल्ड मेडल 2019-20 एसजीएफआई राष्ट्रीय कुश्ती गोल्ड मेडल

      वर्ष 2020-21: अंडर 15 नेशनल ब्रॉन्ज मेडल

      वर्ष 2021-22: विश्व सब जूनियर कुश्ती में क्वालीफाई

      बहलहाल, झारखंड के इतिहास में पहली बार है जब विश्व कुश्ती चैंपियनशिप के लिए किसी पहलवान में भारतीय टीम में जगह बनाई है। बीते सोमवार को नई दिल्ली के इंदिरा गांधी इंडोर स्टेडियम में भारतीय कुश्ती महासंघ द्वारा आयोजित चयन ट्रायल में चंचला ने अपने सभी प्रतिद्वंद्वियों को पटखनी देकर सब जूनियर विश्व चैंपियनशिप के लिए क्वालीफाई किया।

      वहीं चंचला के पिता नरेंद्र नाथ पाहन ने खुशी प्रकट करते हुए कहा कि उनकी बेटी को बचपन से ही उसे खेलकूद में ज्यादा मन लगता था। गांव के ही मैदान में दौड़ती थी। योग भी करती थी। चार साल पहले खेल एकेडमी के लिए ट्रायल हुआ था। जहां चंचला ने अपनी मेहनत से जगह बनाई थी। बहुत गर्व महसूस हो रहा है कि हमारी बेटी का चयन विश्व सब जूनियर कुश्ती में क्वालीफाई हुआ है।

      संबंधित खबर
      error: Content is protected !!