बीमा एजेंट गैंगरेपः तीन धराए, एक को उसकी पत्नी ने थाना में ही धूना

Share Button

पीड़िता ने घटना की पुष्टि करते हुए कहा कि पांचों आरोपितों ने बारी-बारी से उसके साथ दुष्कर्म किया। बयान दर्ज कराने के बाद कोर्ट के आदेश पर परिजनों को सौंप दिया गया…..”

रांची दर्पण डेस्क। बीमा कंपनी की एजेंट से सामूहिक दुष्कर्म मामले में पुलिस गिरफ्त में आये तीनों आरोपितों को जेल भेज दिया गया। इससे पहले परिजनों को थाना बुलाया गया।

पकड़े गए आरोपियों में कोकर आदर्श नगर निवासी संतोष साव, एकतानगर बूटी मोड़ निवासी धर्मेद्र कुमार और खेलगांव चौक के समीप रहने वाला राहुल उर्फ रामेश कुमार शामिल हैं। जबकि बरियातू के करमटोली निवासी रिक्की गुप्ता और मेन रोड रामगढ़ कैंट निवासी कमल सिंह फरार हैं।

आरोपित धर्मेद्र की पत्नी जब थाना पहुंची। उस समय तीनों को कोर्ट ले जाया जा रहा था। आरोपितों को पुलिस जिप में बैठाया ही जा रहा था कि इसी बीच धर्मेद्र की पत्नी ने उसे ताबड़तोड़ पांच-छह थप्पड़ लगा दिए। पुलिस ने मुश्किल से उसे संभाला।

वह बार-बार यही कह रही थी कि इसने मुझे धोखा दिया है। साहब, इसे छोड़िएगा नहीं। सड़ने दीजिए जेल में। रोकने के बावजूद बार-बार मारने दौड़ रही थी।

हालांकि, पुलिसकर्मियों ने किसी तरह उसे समझा-बुझा कर शांत कराया। वहीं, धर्मेद्र सिर झुका कर चुपचाप जिप में बैठा रहा।

दुष्कर्म पीड़िता का सदर अस्पताल में मेडिकल कराया गया। इसके बाद अदालत लाया गया जहां बंद कमरे में न्यायिक दंडाधिकारी कुमारी नितिका के समक्ष 164 के तहत बयान दर्ज किया गया।

पीड़िता ने घटना की पुष्टि करते हुए कहा कि पांचों आरोपितों ने बारी-बारी से उसके साथ दुष्कर्म किया। बयान दर्ज कराने के बाद कोर्ट के आदेश पर परिजनों को सौंप दिया गया।

खेलगांव इलाके में इसी मकान में पीड़िता को लेकर आरोपित आए थे और सामूहिक दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया था।

राहुल नाम का आरोपित लंबे समय से पीड़िता के पीछे पड़ा था। वह करीब छह महीने पहले उसी इंश्योरेंस कंपनी में काम करता था, जहां पीड़िता काम करती है। काम छोड़ने के बाद जबरन बात करना चाहता था।

आठ फरवरी को कॉल कर कहा कि एक परिचित आदमी का एलआइसी कराना है। जो मुनाफा आएगा, उसे आधा-आधा बांट लिया जाएगा। इससे इन्कार करने पर उसने सीधे संतोष को नंबर दे दिया।

संतोष ने ही पीड़िता को कॉल कर खेलगांव चौक पर बुलाया। वहां कागज और पैसे घर में होने की बात कह खेलगांव के लालगंज स्थित बॉबी नाम के युवक के किराए के घर पर ले गया। बॉबी संतोष का दोस्त है।

उसे नहीं मालूम था कि उसके घर का दुरुपयोग किया जाना है। उससे चाबी लेकर गलत काम के लिए कमरे का इस्तेमाल किया। जबतक वह घर लौटा था, तबतक उसे घटना की जानकारी नहीं थी।

पुलिस को दिए बयान में पीड़िता ने बताया है कि बीते आठ फरवरी को दरिंदों ने उसे सात घंटे तक बंधक बनाकर रखा था। पूरी घटना का मास्टरमाइंड राहुल है। उसे महत्व नहीं देने की वजह से उसने सामूहिक दुष्कर्म की साजिश रची।

दिन के करीब 12 बजे से लेकर सात बजे तक पीड़िता बदमाशों के चंगुल में थी। एक किराए के घर में उसे बंधक बनाकर रखा गया था। सात घंटे के भीतर सभी ने बारी-बारी से दुष्कर्म किया। सबसे पहले चार घंटे तक संतोष, रिक्की और कमल ने पीड़िता को शिकार बनाया।

इसके बाद शाम के चार बजे के करीब वहां राहुल और धर्मेद्र पहुंचे। फिर, राहुल ने पीड़िता से दुष्कर्म किया। पीड़िता ने गिड़गिड़ाते हुए छोड़ने के लिए कही। लेकिन किसी ने नहीं सुनी।

शौच के बहाने पीड़िता वहां से भागकर सदर थाना क्षेत्र के गाड़ीगांव स्थित अपने किराए के घर पर पहुंची। दो दिनों के बाद सोमवार की शाम पुलिस को सूचना दी गई।

घटना के दौरान पीड़िता ने धर्मेद्र नाम के आरोपित की ट्रांसपोर्ट कंपनी से संबंधित विजिटिंग कार्ड रख लिया था। उस वीजिटिंग कार्ड को पुलिस को सौंप दिया। इसी के आधार पर बूटी मोड़ के समीप स्थित ट्रांसपोर्ट कार्यालय पर पुलिस पहुंची। वहां मालिक से संपर्क कर धर्मेद्र को बुलवाया गया।

मालिक के बुलावे पर आरोपित पहुंचा, इसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया। तकनीकी सेल की मदद से संतोष और राहुल के घर पर छापेमारी की गई और इन दोनों को भी दबोच लिया गया।

Share Button
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
Don`t copy text!
» बाल सुधार गृहः यहां सुधरने के बजाय यूं बिगड़ रहे हैं बच्चे   » सैट जवानों की हद पारः 18 KM पीछा कर डॉ. अदिति कश्यप संग की थी बदसलूकी-मारपीट   » पुलिस वर्दीधारी बदमाशों ने रिम्स के डॉक्टर के साथ की बदसलूकी, ड्राइवर को पीटा   » देश की आजादी में वीर शहीद बुधु भगत का अतुल्य योगदान :हेमन्त सोरेन   » रांची में ‘नेतृत्व क्षमता और सुशासन’ विषय पर यूं बोले उपराष्ट्रपति एम.वेंकैया नायडू   » कोरोना वायरस ने बढ़ाई माइका कारोबारियों की मुश्किलें   » शराब के लिए पैसा नहीं देने पर दोस्तों ने पत्थर से कूच कर मार डाला   » बीमा एजेंट गैंगरेपः तीन धराए, एक को उसकी पत्नी ने थाना में ही धूना   » 7वीं की छात्र का जबाव- ‘हेमंत सोरेन शिक्षा मंत्री और मुख्यमंत्री अमित शाह’   » कैंसर-लिवर-किडनी के मरीजों को मिलेगी 5 लाख, 8 लाख तक आय वाले का फ्री ईलाज