अन्य
    Thursday, April 25, 2024
    अन्य

      गहरे पानी में नहाने की होड़ लील गई किशोर की जिंदगी, कोचिंग छोड़ सुंदर नदी में नहाने पहुंचे थे तीन दोस्‍त

      Teenager Drowned In Sunder River गोड्डा के पथरगामा में तीन दोस्‍त कोच‍िंग से निकलकर घर जाने के बजाय सुंदर नदी के कुंड में नहाने पहुंच गए। दोस्‍तों का यह फैसला एक किशोर की जान के लिए खतरनाक साबित हुआ।

      पथरगामा (गोड्डा), रांची दर्पण न्यूज डेस्क: पथरगामा की सुंदर नदी के कुंड में डूबने से किशोर की मौत हो गई। घटना मंगलवार दोपहर की है। मृतक की पहचान 16 वर्षीय विनय राज उर्फ विनय कुमार झा गोड्डा नगर क्षेत्र के रौतारा चौक निवासी गौतम कुमार झा के पुत्र के रूप में हुई है।बताया जाता है कि गोड्डा के चपरासी मोहल्ला स्थित कोचिंग सेंटर में पढ़ने वाले विनय राज उर्फ विनय कुमार झा अपने दो अन्य दोस्त संजीव और शुभम के साथ बाइक पर सवार होकर कोचिंग सेंटर जाने के बजाए नदी में नहाने के लिए पथरगामा आ गए।

      विनय डूबने लगा तो दोस्‍तोंं ने मचाया शोर 

      पथरगामा-महागामा रोड में सुंदर नदी के कुंड में गहरे पानी में नहाने के लिए लोगों में होड़ मची रहती है। तीनों दोस्त बाइक से यहां आकर कुंड में स्नान करने लगे। तभी कुंड के गहरे पानी में विनय राज डूबने लगा तो उसके दोस्तों ने हो हल्ला किया। इसके बाद आसपास के लोगों ने किशोर के डूबने की सूचना पुलिस को दी।

      पथरगामा थाना प्रभारी अरुण कुमार दल-बल के साथ वहां पहुंचे और विनय को बचाने के लिए थाना प्रभारी अरुण कुमार अपने सहयोगियों के साथ कुंड में उतर गए। काफी खोजबीन के बाद विनय को कुंड से निकाला गया, लेकिन तबतक उसकी मौत हो चुकी थी।

      घटनास्‍थल पर लगी लोगों की भीड़

      विनय राज की नदी में डूबने से मौत की सूचना के बाद स्वजनों सहित स्थानीय लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। विनय राज के‌ शव से लिपट कर पिता गौतम कुमार झा विलाप करते रहे। पिता गौतम कुमार झा ने विनय के दोस्तो पर हत्या का इल्जाम भी लगाया है।

      महागामा थाना क्षेत्र के गमहरिया ग्राम निवासी संजीव कुमार एवं गोड्डा के शुभम कुमार के साथ  विनय नहाने के लिए सुंदर नदी आया था। नदी के तट पर मोटरसाइकिल खड़ी कर तीनों मित्र नहाने के लिए नदी के कुंड में कूद गए।

      सुरंग में जा फंसा था विनय, काफी दे बाद निकाला गया शव 

      कुछ देर बाद दोनों मित्रों ने देखा कि विनय राज नदी में डूब रहा है, उसे बचाने के लिए उन लोगों ने हल्ला किया। इसपर शोर सुनकर आसपास के लोग इकट्ठा हुए, लेकिन तब तक विनयराज सुंदर नदी में बनी सुरंग में जा फंसा।

      ग्रामीणों की सूचना पर वहां पुलिस भी पहुंची, लेकिन विनय को बचाया नहीं जा सका। नदी के गहरे कुंड से विनय को काफी देर बाद निकाला जा सका।

      गहरे पानी में दम घुटने से विनय की मौत हो गई। पुलिस ने पंचनामा तैयार कर पोस्टमार्टम के लिए शव को सदर अस्पताल गोड्डा भेज दिया है।

      पिता ने दोस्‍तों को बताया बेटे की मौत का जिम्‍मेदार

      इधर, मृतक के एक साथी ने बताया कि विनय राज एवं शुभम कुमार दोनों को चपरासी मोहल्ला स्थित कोचिंग सेंटर जाना था, लेकिन महावीर जयंती पर अवकाश के कारण वे लोग नदी में स्नान करने आ गए, जहां यह घटना घट गई।

      मृतक के पिता गौतम कुमार झा ने कहा कि दोनों दोस्त मेरे पुत्र को यहां स्नान करवाने के लिए लाया और उसकी मौत हो गई। इसके जिम्मेदार दोनों दोस्त हैं।

       

       

      संबंधित खबर
      error: Content is protected !!