सीएम हेमंत सोरेन ने रांची सिविल कोर्ट में गोड्डा सांसद पर किया 25 करोड़ का मानहानि केस, ट्विटर-फेसबुक भी आरोपी

0

रांची दर्पण डेस्क। झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने गोड्डा के भाजपा सांसद निशिकांत दुबे के खिलाफ अवर न्यायाधीश प्रथम वैशाली श्रीवास्तव की कोर्ट में मानहानि का केस किया है। इसमें सोशल मीडिया कंपनी ट्विटर और फेसबुक को भी आरोपी बनाया है।

आवेदन में कहा गया है कि निशिकांत दुबे ने गलत इरादे से ट्विटर और फेसबुक का सहारा लेकर उनके खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी कर उनकी छवि को बदनाम करने की कोशिश की है, जिसकी भरपाई पैसे से नहीं हो सकती। इसमें सीएम ने सांसद और दोनों सोशल मीडिया के खिलाफ 25 करोड़ की राशि का दावा भी ठोका है।

सीएम ने कोर्ट से आग्रह किया गया है कि इस मानहानि की एवज में 25 करोड़ की राशि दिलवाई जाए। इस केस पर सुनवाई के लिए 5 अगस्त की तिथि निर्धारित थी, लेकिन सुनवाई नहीं हो सकी।

अब याचिका को स्वीकार करने के बिंदु पर 22 अगस्त को सुनवाई होगी। अभी सिर्फ केस दाखिल किया गया है, इसे स्वीकार नहीं किया गया है। केस स्वीकार होने के बाद ही नोटिस जारी किया जाएगा। गौरतलब है कि निशिकांत दुबे ने पिछले दिनों ट्विटर पर सीएम के खिलाफ गंभीर आरोप लगाए थे।

मालूम हो कि निशिकांत दुबे ने पिछले दिनों ट्विटर पर मुख्यमंत्री के खिलाफ गंभीर आरोप लगाये थे। शुक्रवार को सांसद डॉक्टर निशिकांत दुबे ने ट्वीट कर लिखा कि चोरी चोरी केस क्यों भाई, ऐसे केस से मेरी भी मानहानि हुई है, जल्दी मैं भी केस करुंगा और हमारे ईमानदार व सात्विक मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन पर बलात्कार का आरोप लगाकर 10 दिन के अंदर केस वापस लेने वाली महिला को भी पार्टी बनाऊंगा, मुख्यमंत्री की बदनामी मुझे नापसंद है।

दरअसल, 28 जुलाई, 2020 को सांसद ने एक ट्वीट किया था, जिसमें उन्होंने कहा था, ‘महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख जी, मुंबई शहर में 2013 में झारखंड के तत्कालीन मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन जी पर एक लड़की ने बलात्कार, अपहरण के आरोप लगाये।

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार समझौते से भी यह आरोप बंद नहीं हो सकता। ’इस ट्वीट में उन्होंने एनसीपी नेता शरद पवार, उनकी बेटी और सांसद सुप्रिया सुले, भारत के गृह मंत्री अमित शाह और बीएल संतोष को टैग किया था।

वे एक अन्य ट्वीट में लिखा, ‘एक मुख्यमंत्री पर यह आरोप लोकतंत्र के लिए शर्मनाक है। इसकी जांच मुंबई पुलिस को तुरंत दुबारा करनी चाहिए।’

सीएम ने कहा था- जवाब आपको अगले 48 घंटे में कानूनी रूप से दिया जाएगा

सांसद के इस ट्वीट के बाद हेमंत सोरेन के भी ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया गया कि सांसद निशिकांत दुबे ने मुझ पर कुछ आरोप लगाए हैं। सांसद को इसका जवाब आपको अगले 48 घंटे में कानूनी रूप से दिया जाएगा। वे देश और राज्यवासियों को अपने आचरण के अनुरूप गुमराह करना बंद करें।