अन्य
    Thursday, April 25, 2024
    अन्य

      ईद मिलादुन्नबी के अवसर पर निकाला गया जुलूस-ए-मोहम्मदी

      ओरमांझी (एहसान राजा)। सभी नबियों के सरदार पैगंबर हजरत मोहम्मद (स.अ.)के जन्म दिवस पर रविवार को सिकिदिरी के कुटे सहित अपर कुटे,खुदिया-लोटवा,सांडी,भुसूर-डटमा,बक्सीडीह,सिकिदिरी बस्ती व कुच्चू आदि गांवों में जुलूस-ए-मोहम्मदी निकाला गया।

      मुख्य जुलूस मरकजी अंजुमन कमेटी कुटे के नेतृत्व में जामा मस्जिद से सुबह आठ बजे आरंभ हो कर सिकिदिरी-ओरमांझी पथ होते हुए सांडी चौक पहुंचा।

      इस दौरान जुलूस में शामिल बच्चे-बच्चियां,युवा और बुजुर्ग अपने-अपने हाथों में इस्लामी झंडे व बैनर  लेकर संयमित तरीके से चलते हुए नारे रिसालत,आका की आमद मरहबा,सरकार की आमद मरहबा आदि नारा लगा रहे थे। सांडी चौक से खुदिया-लोटवा होते हुए जुलूस पुनः कुटे पहुंचा।

      कुटे पहुंचने के बाद जुलूस में शामिल लोगों ने पंचायत सचिवालय के समीप एकत्र हो कर सामूहिक रूप से सलात-व-सलाम पढ़ने के बाद देश में अमन व शांति के लिए दुआ की। फातेहा व लंगर खानी के बाद जुलूस का समापन हुआ।

      इस से पूर्व शनिवार की रात मरकजी अंजुमन कमेटी के तत्वावधान में  जलसा-ए- ईद मिलादुन्नबी (स.अ.) का भव्य आयोजन किया गया। इस दौरान गांव में जगह -जगह रंग-बिरंगे चमकीले पताकों और झालरों से सजाया गया था।

      जलसा में आलिमों ने तकरीर और नात पढ़ने वालों ने नात के माध्यम से मोहम्मद(स.अ.)की जीवनी पर विस्तृत रूप से प्रकाश डाला।

      मौके पर पूर्वउप प्रमुख मुंतजिर अहमद रजा, अमाल खान, मुस्लिम फैजी, हकीमुद्दीन अंसारी, सऊद अंसारी, आदि मुख्य रूप से उपस्थित थे।

      संबंधित खबर
      error: Content is protected !!