फेयर डिजिटल कंज्यूमर अवेयरनेस विषयक सेमिनार में युवाओं को जागरूक रहने के टिप्स दिए गए

रांची दर्पण
द ऑल इंडिया ब्वॉय स्काउट्स एसोसिएशन के झारखंड स्टेट ब्रांच एवं ग्रामीण उपकार संस्थान झारखंड के संयुक्त तत्वावधान में मंगलवार को फेयर डिजिटल कंजूमर अवेयरनेस विषयक सेमिनार का आयोजन रांची करमटोली चौक स्थित प्रेस क्लब के सभागार में किया गया।

कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्ज्वलित कर एवं अतिथियों को पुष्पगुच्छ देकर स्वागत किया गया। सेमिनार में प्रतिभागियों के रूप में नेहरू युवा केंद्र के वॉलिंटियर्स एवं विभिन्न कॉलेज और संस्थान छात्रों ने भाग लिया. कार्यक्रम की अध्यक्षता ग्रामीण उपकार संस्थान के कुलसचिव केडी तिवारी ने की.
भ्रामक प्रचार के जाल में न फंसे उपभोक्ताः भगवान सिंह
सेमिनार में बतौर मुख्य अतिथि प्रो. भगवान सिंह (डीन, स्कूल ऑफ मैनेजमेंट साइंस एवं एचओडी, डिपार्टमेंट ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन, सेंट्रल यूनिवर्सिटी ऑफ झारखंड) ने कहा कि भ्रामक प्रचार के जाल में फंस कर उपभोक्ताओं को काफी नुकसान उठाना पड़ता है, इसीलिए उपभोक्ता अपनी जिम्मेदारी को समझें और किसी भी वस्तु को आंख बंद करके ना खरीदें, उसकी गुणवत्ता का ध्यान रखते हुए और उचित मूल्य पर वस्तुओं का खरीदारी करें।

उन्होंने कहा कि आज पैसे का लेन-देन डिजिटली भुगतान के माध्यम से हो रहा है, उसमें भी जागरूक होने की जरुरत है.
ग्रामीणों को डिजिटलाइज्ड करने की जरूरत: डॉ. पूजा शुक्ला
विशिष्ट अतिथि डॉ. पूजा शुक्ला ने कहा कि आज का युग डिजिटल युग हो गया है और आज गांव-गांव के लोगों को डिजिटलाइज्ड करने की आवश्यकता है। गांव के लोग जब इस बिंदु पर जागरूक होंगे तो फाइनेंशियल सेक्टर में लेन देन कर सकते हैं। आज डिजिटल लिटरेसी के साथ-साथ फाइनेंसियल लिटरेसी की भी आवश्यकता है।
हम छूट के गुलाम हो गए हैं: डॉ. बसंत झा
विशिष्ट अतिथि डॉ. बसंत कुमार झा ने कहा कि आज हम सभी छुट का गुलाम हो गए हैं, जहां छूट मिलती है वहां लोग ज्यादा पहुंचकर खरीदारी करते हैं और गुणवत्ता का ध्यान नहीं रखते। डिजिटल युग में उपभोक्ताओं के सपोर्ट से ही ई-कॉमर्स आगे बढ़ा है। हमें सिक्योरिटी वाले सिस्टम को अपनाना चाहिए। लालच के कारण डिजिटल लेन-देन में नुकसान होता है जिससे बचना चाहिए।
गारंटी-वारंटी के फर्क को समझना जरूरी: प्रो. डीके रुसिया
बिरसा एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी के डीन प्रो. डी.के रुसिया ने कहा कि क्या आज के दौर में प्रचार-प्रसार में भी उपभोक्ता ठगे जाते हैं. शर्तें लागू जैसे शब्दों के जाल में हम उलझ जाते हैं और ठगे जाते हैं. आज हर क्षेत्र में उपभोक्ता ठगे जा रहे हैं. इसलिए हमें हर हाल में जागरूक और चौकस रहने की जरूरत है. गारंटी और वारंटी में भी फर्क हमें समझने की जरूरत है. अधिकृत विक्रेता या लाइसेंसी दुकानदारों से ही वस्तुओं को खरीदने की जरूरत है.
सिस्टम की सड़ांध के साथ रहना हमारी मजबूरी : नारायण विश्वकर्मा
विशिष्ट अतिथि के रूप में पत्रकार व सामाजिक कार्यकर्ता नारायण विश्वकर्मा ने युवाओं की ओर मुखातिब होते हुए कहा कि सरकार हो या निजी संस्थान, सभी ठगने में आगे हैं. श्री विश्वकर्मा ने कहा कि सरकार द्वारा उपलब्ध कराए गए खाद-बीज से अक्सर किसानों को धोखा खाना पड़ता है जब खेतों में उनकी फसल खराब हो जाती है तो किसान सरकार से ठगा महसूस करता है. फसल बीमा योजना के तहत मिलनेवाली क्षतिपूर्ति की राशि लेने में उन्हें काफी मशक्कत करनी पड़ती है. वहीं प्रतियोगिता परीक्षाओं में सरकार द्वारा फीस ली जाती है, पर समय पर उसकी परीक्षाएं नहीं होती या रद्द हो जाती हैं. इस चक्कर में छात्रों की उम्र निकल जाती है, जिससे सरकार को कोई मतलब नहीं होता. कॉलेजों में तीन साल के कोर्स पांच साल में पूरे होते हैं. इसके लिए सिस्टम दोषी है. अलबत्ता, जांच के नाम पर लंबा समय निकल जाता है. दरअसल, सिस्टम की सड़ांध के साथ रहना हमारी मजबूरी है.
छात्रों के सवालों के जवाब भी दिए गए
कार्यक्रम का संचालन ऑल इंडिया ब्वॉय स्काउट एसोसिएशन झारखंड स्टेट सेक्रेटरी विक्रांत विश्वकर्मा ने किया और धन्यवाद ज्ञापन बजरंग शर्मा ने किया।

इस अवसर पर प्रतिभागियों के रूप में नेहरू युवा केंद्र के वॉलिंटियर् एवं विभिन्न कॉलेज और संस्थान के छात्र-छात्राएं उपस्थित थे. कुछ छात्रों द्वारा पूछे गए सवाल के जवाब भी दिए गए.

Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Expert Media News_Youtube
Video thumbnail
झारखंड की राजधानी राँची में बवाल, रोड़ेबाजी, लाठीचार्ज, फायरिंग
04:29
Video thumbnail
बिहारः 'विकासपुरुष' का 'गुरुकुल', 'झोपड़ी' में देखिए 'मॉडर्न स्कूल'
06:06
Video thumbnail
बिहारः विकास पुरुष के नालंदा में देखिए गुरुकुल, बेन प्रखंड के बीरबल बिगहा मॉडर्न स्कूल !
08:42
Video thumbnail
राजगीर बिजली विभागः एसडीओ को चाहिए 80 हजार से 2 लाख रुपए तक की घूस?
07:25
Video thumbnail
देखिए लालू-राबड़ी पुत्र तेजप्रताप यादव की लाईव रिपोर्टिंग- 'भागा रे भागा, रिपोर्टर दुम दबाकर भागा !'
06:51
Video thumbnail
गुजरात में चरखा से सूत काट रहे हैं बिहार के मंत्री शहनवाज हुसैन
02:13
Video thumbnail
एक छोटा बच्चा बता रहा है बड़ी मछली पकड़ने सबसे आसान झारखंडी तारीका...
02:21
Video thumbnail
शराबबंदी को लेकर अब इतने गुस्से में क्यों हैं बिहार के सीएम नीतीश कुमार ?
01:30
Video thumbnail
अब महंगाई के सबाल पर बाबा रामदेव को यूं मिर्ची लगती है....!
00:55
Video thumbnail
यूं बेघर हुए भाजपा के हनुमान, सड़क पर मोदी-पासवान..
00:30

संबंधित खबरें

आपकी प्रतिक्रिया