सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाने वाले निगमकर्मियों पर होगी कार्रवाई

“इन दिनों रांची में कोरोना संक्रमण तेजी से फैल रहा है। ऐसे में कर्मियों का सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करना काफी चिंताजनक है…

रांची दर्पण डेस्क। राजधानी रांची नगर निगम की कार्यशैली से नाराज हजारों सफाईकर्मी एक बार फिर गोलबंद हो गये हैं।

दरअसल कोरोना काल में सफाईकर्मियों के कामों को प्रोत्साहित करने के लिए वेतन के साथ 2000 रूपये अतिरिक्त प्रोत्साहन राशि दी जा रही थी। मार्च, अप्रैल और मई माह के वेतन में यह प्रोत्साहन राशि तो दी गयी।

लेकिन जून माह के वेतन में यह राशि को रोक दी गयी। इससे नाराज निगम के हजारों सफाईकर्मी शुक्रवार को गोलबंद हो गये। प्रोत्साहन राशि रोके जाने से नाराज हजारों कर्मियों ने चर्च रोड में एक आपात बैठक बुलायी।

उसके बाद सभी कर्मियों ने फिरायालाल चौक के पास जाम लगाया और निगम के खिलाफ नारेबाजी की। इस दौरान निगमकर्मियों ने सोशल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियां भी उड़ायी।

सफाईकर्मी संघ के अध्यक्ष दयानंद का कहना है कि निगम पिछले कई दिनों से सफाईकर्मियों को छलने का काम कर रहा है। कोरोना संक्रमण में 2000 रूपये प्रोत्साहन राशि को रोका जाना कतई सही नहीं है। इस महामारी में भी हजारों कर्मी जान जोखिम में डालकर काम कर रहे हैं। एक अध्यक्ष होने के नाते वे चाहते हैं कि निगम अपने कर्मियों के किये हर वादों को पूरा करें।

वार्ता के लिए प्रदर्शनस्थल पर पहुंची मेयर आशा लकड़ा ने कहा है कि कोरोना काल में निगम पहले ही करोड़ो रूपये खर्च कर चुका है। लेकिन अभी आर्थिक संकट के दौर में निगम के पास भी राशि की कमी है। इसके लिए निगम ने पहले ही हेमंत सरकार से आर्थिक मदद मांगी थी। लेकिन सरकार से अभी तक कोई सहयोग नहीं मिला है।

अगर हेमंत सरकार निगम को कोई आर्थिक मदद नहीं देती है, तो निगम कर्मियों को मदद कहां से कर पाएगा। हालांकि निगम सरकार से यह अनुरोध कर रही है कि तत्काल निगम को पैसा दें, ताकि कर्मियों को प्रोत्साहन राशि दी जा सके।

वहीं कोतवाली डीएसपी ने कहा है कि निगमकर्मियों पर सोशल डिस्टेंसिंग के पालन नहीं करने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

सफाईकर्मियों के नाराजगी के बीच आरएमसी ने अपने कर्मियों के वेतन में बदलाव किया है। पहले एक अकुशल मजदूरों को 267 रूपये प्रतिदिन के हिसाब से वेतन मिलता था। जिसे बढ़ाकर अब करीब 295 कर दिया गया है।

वहीं अद्धकुशल मजदूरों को 314 रूपये, कुशल को 405, अतिकुशल को 471 और लिपिकीय को 406 रूपये प्रतिदिन का वेतन निर्धारित किया गया है।

उप नगर आयुक्त के जारी निर्देश में कहा गया है कि दैनिक वेतन पर कार्यरत सभी सफाईकर्मियों को यह लाभ बीते वर्ष अक्टूबर माह से मिलेगा।

Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Expert Media News_Youtube
Video thumbnail
झारखंड की राजधानी राँची में बवाल, रोड़ेबाजी, लाठीचार्ज, फायरिंग
04:29
Video thumbnail
बिहारः 'विकासपुरुष' का 'गुरुकुल', 'झोपड़ी' में देखिए 'मॉडर्न स्कूल'
06:06
Video thumbnail
बिहारः विकास पुरुष के नालंदा में देखिए गुरुकुल, बेन प्रखंड के बीरबल बिगहा मॉडर्न स्कूल !
08:42
Video thumbnail
राजगीर बिजली विभागः एसडीओ को चाहिए 80 हजार से 2 लाख रुपए तक की घूस?
07:25
Video thumbnail
देखिए लालू-राबड़ी पुत्र तेजप्रताप यादव की लाईव रिपोर्टिंग- 'भागा रे भागा, रिपोर्टर दुम दबाकर भागा !'
06:51
Video thumbnail
गुजरात में चरखा से सूत काट रहे हैं बिहार के मंत्री शहनवाज हुसैन
02:13
Video thumbnail
एक छोटा बच्चा बता रहा है बड़ी मछली पकड़ने सबसे आसान झारखंडी तारीका...
02:21
Video thumbnail
शराबबंदी को लेकर अब इतने गुस्से में क्यों हैं बिहार के सीएम नीतीश कुमार ?
01:30
Video thumbnail
अब महंगाई के सबाल पर बाबा रामदेव को यूं मिर्ची लगती है....!
00:55
Video thumbnail
यूं बेघर हुए भाजपा के हनुमान, सड़क पर मोदी-पासवान..
00:30

संबंधित खबरें

आपकी प्रतिक्रिया