बिल्डर-अखबार मालिक के दफ्तर पर फायरिंग मामले में ‘सुजीत गैंग’ के 4 लोग धराए

0
225

“पुलिस ने जिन आरोपियों को पकड़ा गया है, उनमें रवि रंजन पांडे, फिरोज अंसारी, अमित उरांव और कुलदीप गोप हैं। पुलिस ने इनके पास से एक देसी कार्बाइन, एक ग्रेनेड, 28 गोली, वारदात में इस्तेमाल बाइक और स्कूटी के अलावा मोबाइल फोन भी बरामद किया है…

रांची दर्पण डेस्क। रांची पुलिस ने 48 घंटों के अंदर राजधानी के जाने-माने बिल्डर-अखबार के मालिक अभय सिंह के दफ्तर में घुसकर फायरिंग करनेवाले सुजीत सिन्हा गैंग के चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

बता दें कि बीते 15 अगस्त को रांची के मोरहाबादी इलाके में दिन के 12 बजे के आसपास अखबार के मालिक और बिल्डर अभय सिंह के दफ्तर पर फायरिंग हुई थी। फायरिंग में दफ्तर के बाहर खड़ा उनका गार्ड बाल-बाल बच गया था। हमलावर काले रंग की पल्सर बाइक पर सवार होकर आए थे।

फायरिंग के बाद दोनों उसी बाइक पर बैठकर चिरौंदी की तरफ भाग गए। बाद में बरियातू थाने में अभय सिंह की ओर से लिखित शिकायत दर्ज करायी गई। जिसके बाद से रांची पुलिस की कई टीमें लगातार छापेमारी कर रही थी।

इसके पहले बिल्डर-अखबार के मालिक अभय सिंह से व्हाट्सएप पर मैसेज भेज कर दो करोड़ की रंगदारी मांगी गई थी। रंगदारी मांगनेवाले ने अपना नाम मयंक बताया था और ये भी कहा था कि वो सुजीत सिन्हा गैंग से जुड़ा है।

उस वक्त रंगदारी मांगनेवाले ने ये भी बताया था कि अगर पैसे नहीं मिले और पुलिस में गए तो अंजाम बेहद बुरा होगा। बाद में मयंक ने अभय सिंह के मोबाइल पर दो बार व्हाट्सएप्प पर कॉल भी किया था। 

लेकिन अभय सिंह ने कॉल रिसीव नहीं किया था। अभय सिंह ने बाद में इसकी शिकायत भी बरियातू थाने में दर्ज करायी थी।