अन्य

    बच्चों को दी जा रही एक्सपायरी डेट की कोविड वैक्सीन, यूं हुआ खुलासा

    राँची दर्पण डेस्क। बच्चों को कोरोना के संक्रमण से बचाने के लिए सरकार से वैक्सीन लगाने की मंजूरी मिलते ही 3 जनवरी से झारखंड में बच्चों को टीका लगाने का काम शुरू कर दिया गया है।

    Kovid vaccine of expiry date being given to children revealed like this 1इस बीच रविवार को कई सेंटर पर एक्सपायर वैक्सीन लगाने का मामला सामने आया। जैसे ही सेंटर पर आए पेरेंट्स को जानकारी मिली कि उनके बच्चों को लगाई गई वैक्सीन 2 महीने पहले ही एक्सपायर हो चुकी है।

    इसके बाद वहां पर अफरा तफरी का माहौल हो गया। वहीं पेरेंट्स को इस बात की चिंता सताने लगी कि कहीं एक्सपायर्ड वैक्सीन का साइड इफेक्ट उनके बच्चों पर न हो जाए।

    सवाल उठता है कि जब वैक्सीन की एक्सपायरी डेट 2 महीने पहले ही खत्म हो गई तो यह सेंटर पर बच्चों को लगाने के लिए कैसे भेज दी गई?

    दरअसल इस लापरवाही का खुलासा तब हुआ, जब रांची के ही रहनेवाले सत्यनारायण शर्मा अपने बच्चे को लेकर रांची पहुंचे। हैदराबाद से लौटने के बाद उन्होंने अपोलो क्लीनिक में जाकर बच्चे को कोवैक्सीन लगवाई।

    टीका लगाने के दौरान वह अपने बच्चे की फोटो खींच रहे थे इसी बीच उनकी नजर वहां रखे कोवैक्सीन की वायल पर पड़ी। जिसका एक्सपायरी डेट नवंबर 2021 था। इसके लिए उन्होंने अपोलो क्लिनिक को 1200 रुपये पेमेंट भी किये।

    जब उन्होंने शीशी में लिखे बैच नंबर 37H21015A का सर्टिफिकेट फोर कोविड वैक्सिनेशन से मिलान किया तो दोनों के बैच नंबर में समानता मिली।

     

    सीबीआई का नया एंगल, मोबाइल लूट के लिए हुई जज उत्तम आनंद की हत्या !

    शहीद निर्मल महतो की 71वीं जयंती पर झूम उठे गरीब बच्चे, क्योंकि…

    अब ईडी करेगी रेमडेसीविर इंजेक्शन कालाबाजारी मामले की जांच, प्राथमिकी दर्ज

    नशीली दवा-इंजेक्शन के कारोबार में संलिप्त 3 युवक गिरफ्तार

    पुलिस ने रांची सांसद, मेयर समेत कई भाजपा नेताओं के गिरफ्तारी की अनुमति माँगी

    1 COMMENT

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    Related news