मेडिका, सेंटेविटा और गुरुनानक अस्पताल ने नहीं लिया भर्ती, ईलाज के अभाव में डॉ. गिरधारी राम गौंझू की मौत

राँची दर्पण। रांची विश्वविद्यालय के क्षेत्रीय व जनजातीय भाषा विभाग के पूर्व अध्यक्ष डॉ. गिरिधारी राम गौंझू का आज गुरुवार को निधन हो गया है।

जानकारी के अनुसार डॉ गिरिधारी राम गौंझू को सांस लेने में तकलीफ हो रही थी। उन्हें इलाज के लिए मेडिका अस्पताल, सेंटेविटा हॉस्पिटल और गुरुनानक अस्पताल में दाखिल करने के लिए ले जाया जाया गया था।

लेकिन कोविड जांच नहीं होने की बात कह कर उनको दाखिल नहीं किया गया। इसके बाद उन्हें कोविड जांच के लिए ले जाया गया, लेकिन इसी दौरान उनका निधन हो गया।

डॉ. गिरिधारी राम गौंझू नागपुरी भाषा के अच्छे जानकार थे। उनकी कई किताबें भी प्रकाशित हुई हैं। डॉ. गिरिधारी राम गौंझू सामाजिक और सांस्कृतिक गतिविधियों में काफी सक्रिय रहते थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

एक नज़र