Saturday, April 17, 2021

एक करोड़ के पैंगोलिन समेत 4 तस्कर धराए

पैंगोलिन से उत्तेजक व शक्तिवर्धक और उसके चमड़ी से बुलेट प्रूफ जैकेट बनाने का काम आता है। जिसके कारण विश्व में पहले स्थान पर तस्करी में आता है। जिसकी मांग चीन, हांगकांग, मलेशिया और सिंगापुर आदि देशों में सबसे ज्यादा है ..

रांची दर्पण डेस्क। एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा के निर्देश पर छापेमारी कर तमाड़ थाना क्षेत्र के मनकीडीह से एक पैंगोलिन (वज्रकीट) को बरामद करते हुए चार तस्करों को दबोचा गया है। जिनमें मार्टिन मुंडा, लूकस मुंडा, गुरुआ मुंडा और माकस हस्सा शामिल हैं।

इस पैंगोलिन वज्रकीट वन विभाग को सौंप दिया है। यह 15 किलोग्राम यह पैंगोलिन है इसकी उम्र 300 से 400 वर्ष के बीच की बताई जा रही है। अंतरराष्ट्रीय बाजार में इसका मूल्य करीब एक करोड़ है।

बुंडू डीएसपी अजय कुमार और एसीसीएफ अर्जुन बड़ाईक के संयुक्त अभियान में पुलिस ने दुर्लभ प्रजाति को तस्करों के कब्जे से मुक्त किया। तस्कर इसे बेचने के फिराक में थे। आठ लाख तक बोली भी लग गई थी।

डीएसपी के अनुसार इस दुर्लभ प्रजाति के जानवर को उपरोक्त आरोपियों ने मनिका डीह के समीप स्थित कोरोंटो जंगल से दो दिन पूर्व ही पकड़ा था। वे उसे बेचने की फिराक में थे। सभी आरोपियों पर वन अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है।

पैंगोलिन से उत्तेजक व शक्तिवर्धक और उसके चमड़ी से बुलेट प्रूफ जैकेट बनाने का काम आता है। जिसके कारण विश्व में पहले स्थान पर तस्करी में आता है। जिसकी मांग चीन, हांगकांग, मलेशिया और सिंगापुर आदि देशों में सबसे ज्यादा है ।

अन्य खबरें