मोदी सरकार की नीतियों से बढ़ते बेरोजगारी गंभीर चिंता का विषयः आभा सिन्हा

0

2017 के एसएससी-सीजीएल की भर्तियों में अभी तक नियुक्ति नहीं हुई है। वर्ष 2018 के सीजीएल परीक्षा का रिजल्ट अभी तक नहीं आया है। वर्ष 2019 के सीजीएल की परीक्षा ही नहीं हुई। वर्ष 2020-एसएससी सीजीएल की भर्तियां निकाली ही नहीं। भर्ती निकले तो परीक्षा नहीं, परीक्षा हो तो रिजल्ट नहीं, रिजल्ट आ जाये तो नियुक्ति नहीं

रांची दर्पण डेस्क। झारखण्ड प्रदेश कांग्रेस कमिटी की प्रवक्ता आभा सिन्हा ने मोदी सरकार की गलत नीतियों के कारण देश में बेरोजगारी बढने पर चिंता जताते हुए कहा कि इस संकट को दूर करने के लिए तत्काल आवश्यक कदम उठाए जाने चाहिए।

उन्होंने कहा कि देश में रोजगार के आंकड़े घटे है, जिसके कारण देश में बेरोजगारी अपना विकराल रूप में ले रहा है।

उन्होंने कहा कि सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकॉनमी (सीएमाअईई) के आंकड़ों के अनुसार अगस्त माह में देश में बेरोजगारी 8.4 फीसदी बढ़ी है।

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार केवल देश के युवाओं को गुमराह कर उनके जीवन के साथ खिलवाड़ कर रही है।

उन्होंने कहा “प्राइवेट सेक्टर में छंटनी और सरकारी नौकरियों में भर्तियों पर ताला लगने से युवाओं का भविष्य बर्बाद हो गया है, लेकिन सरकार सच पर पर्दा डालने के लिए विज्ञापनों और भाषणों में झूठ परोसा जा रहा है।”

श्रीमती सिन्हा ने राज्य सरकार से मांग की है कि राज्य में विभिन्न विभागों में रिक्त पड़े पदों पर जल्द से जल्द बहाली प्रक्रिया प्रारंभ कर राज्य से बेरोजगारी को मिटाया जाय। साथ हीं साथ बेरोजगारी के कारण मुख्यधारा से भटके युवाओं को सही राह पर लाया जाय।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here