ओरमांझी के चुंघाटिया जंगल और कुल्ही गाँव में अवैध देशी शराब भट्टी यूं ध्वस्त

0

ओरमांझी (मोहसिन)। थानाध्यक्ष श्याम किशोर महतो के नेतृत्व में ओरमांझी थाना क्षेत्र के चुन्घाटिया होरेदाग जंगल में गुप्त सूचना के आधार पर छापेमारी अभियान चलाकर लगभग 70 लीटर अवैध शराब की जप्ती के साथ 200 किलोग्राम जावा महुआ को विनिष्ट किया गया।

शराब बनाने वाले सामग्री को पुलिस ने जप्त कर थाना ले लाई है। इसके अलावा शराब बनाने वाले एक व्यक्ति धनेश्वर महतो पर प्राथमिकी दर्ज कराई गई है।

कहते हैं कि यहां जंगल में छुपकर देसी दारु बना कर क्षेत्र के छोटे-मोटे बाजारों व गांव में भेजा जाता है। जिससे बूढ़ों के साथ नव युवक लोग इसे पीकर कई तरह के छोटे-मोटे वारदात अंजाम देते हैं।

पुलिस की इस बड़ी कार्रवाई से अवैध रूप देसी शराब का कारोबार करने वाले माफियों में हड़कंप मच गया है।

उधर, स्थानीय लोगों का कहना है कि जंगल के इलाके में अवैध शराब का निर्माण एवं कारोबार नई बात नहीं है।  इलाका लंबे समय से इस तरह के अवैध कारोबार के लिए बदनाम रहा है।

दरअसल, पुलिस कार्रवाई करती है, लेकिन कुछ ही दिनों में फिर कारोबारी धंधा शुरू कर देते हैं। जब तक कारोबारियों के खिलाफ ठोस कार्रवाई नहीं की जाएगी, तब तक शायद कारोबार पर पूरी तरह अंकुश लग पाना संभव नहीं है।

इससे पहले भी कई बार इस जंगल में अवैध तरीके से बनाए जा रहे देसी शराब की भट्टी को ध्वस्त किया जा चुका है। मगर देसी शराब बनाने वाले नहीं सुधर रहे हैं।

जिसे देखते हुए मौके पर थाना प्रभारी इंस्पेक्टर श्याम किशोर महतो ने कहा कि जंगल की आड़ में महुआ दारू बना कर बेचना एवं पैसा कमाना काफी गलत काम है। इसके लिए पुलिस कड़ी कार्रवाई करेगी।

इसके अलावा कुल्ही में भी अवैध तरीके से देश शराब बना रहे अड़े पर छापेमारी किया गया। जहाँ के संचालक वरुल महतो पर प्राथमिकी दर्ज किया गया। मौके पर एएसआई संजय दास सहित पुलिस टीम की जवान मौजूद थे।